तरबूज

तरबूज गर्मी के मौसम का फल है। तरबूज लगभग पूरे भारत में पाया जाता है। पका हुआ लाल गूदे वाला तरबूज स्वाद में मीठा या मधुर गुण में शीतल, पित्त एवं गर्मी का शमन करने वाला, पौष्टिकता एवं तृप्ति देने वाला, पेट साफ करने वाला, खुलकर पेशाब लाने वाला है।
तरबूज के बीजों का भी सेवन किया जाता है। तरबूज के बीज शरीर में स्निग्ध्ता बढ़ाने वाले, पौष्टिक, गर्मी का शमन करने वाले, दिमागी शक्ति बढ़ाने वाले, दुर्बलता मिटाने वाले, गर्मी की खांसी दूर करने वाले होते हैं। तरबूज के बीज का सेवन प्रतिदिन 10 ग्राम से 20 ग्राम तक कर सकते हैं। गर्मी के दिनों में दोपहर के भोजन के 2 या 3 घंटे बाद तरबूज खाना लाभदायक है। यदि तरबूज खाने के बाद पेट में कोई तकलीफ हो तो शहद या गुलकंद का सेवन करें।
तरबूज

तरबूज का औषधीय उपयोग

मंदाग्नि

तरबूज के गूदे पर काली मिर्च जीरा एवं नमक डालकर खाने से भूख खुलकर लगती है और पाचन शक्ति बढ़ती है।

शरीर पुष्टि

तरबूज के बीज की गिरी निकालकर चूर्ण बना लीजिए। एक बड़ा गिलास दूध से भरकर उसमें एक चम्मच तरबूज की गिरी का चूर्ण डालकर उबालिये। गर्म दूध में मिश्री मिलाइए ठंडा करके दूध को पी लीजिए इस दूध के प्रतिदिन सेवन से शरीर पुष्ट होता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.